HTML/JavaScript

सहायक शिक्षकों की मांगे जल्द होगी पूरी - शिक्षा मंत्री ने कहा सहायक शिक्षकों का मांग जायज , वेतन विसंगति होगी दूर

 सहायक शिक्षकों की वेतन विसंगति होगी दूर 

रायपुर:- सहायक शिक्षकों के वेतन विसंगति काफी लम्बे अरसे के बाद पूरा होने जा रहा है। जैसे कि आपको मालूम होगा पिछले दिनों सहायक शिक्षकों ने राजधानी रायपुर में अपनी मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन किया था। इसके परिणाम स्वरूप शिक्षा मंत्री से इस मुद्दे पर चर्चा हो पायी। 


राजधानी में सहायक शिक्षकों ने अपने संख्या बल के साथ जोरदार प्रदर्शन किया ,इस धरना प्रदर्शन में प्रदेश के विभिन्न जिलों से सहायक शिक्षक बड़ी संख्या में शामिल हुए। आपको बता दें कि पुरे प्रदेश में सहायक शिक्षकों की संख्या एक लाख से भी ज्यादा है। 

सहायक शिक्षकों से शिक्षा मंत्री की चर्चा 

सहायक शिक्षकों ने जिस तरह बड़ी संख्या में राजधानी रायपुर में अपना प्रदर्शन किया उसे देखते हुए शिक्षा मंत्री ने फेडरेशन के पदाधिकारियों को चर्चा के लिए बुलाया। चर्चा काफी लम्बी चली जिसमे पदाधिकारियों ने अपनी बात मंत्री जी के सामने बहुत ही अच्छी और तर्कपूर्ण ढंग से पेश किये। 

शिक्षा मंत्री ने सहायक शिक्षकों के द्वारा रखें गए मुद्दे को ध्यान से सूना और वेतन विसंगति को सही माना। आपको बता दें कि शिक्षा मंत्री ने सहायक शिक्षकों के इस मांग को जल्द पूर्ण करने की बात कही है। 

वेतन विसंगति क्या है और कैसे दूर होगी यहाँ देखें 

प्रदेश में शिक्षकों के तीन वर्ग है जिसे सहायक शिक्षक(एल बी ) ,शिक्षक(एल बी ) और व्याख्याता (एल बी )के रूप में वर्गीकृत किया गया है। ये संविलियन के पहले शिक्षाकर्मी वर्ग 1,2,और 3 के रूप नियुक्त किये गए थे। 

यहाँ पर आपको ये जानना जरुरी है कि सहायक शिक्षक और शिक्षक एवं व्याख्याता के वेतन में कितना अंतर् है। तो चलिए बताते है। 

व्याख्याता एल बी संवर्ग का मूलवेतन 38100 और ग्रेड पे 4300 रूपये है जिससे शुरुआत से ही इस वर्ग को लगभग 45000 रूपये वेतन मिलता है। इसी प्रकार शिक्षक एल बी का मूलवेतन  34000 और ग्रेड पे 4200 है जिससे शिक्षक एल बी को शुरुआत से ही लगभग 41000 रूपये वेतन मिलता है। यदि सहायक शिक्षकों की बात करें तो इस वर्ग को  मूलवेतन 25300 और ग्रेड पे 2400 रूपये है जिससे सहायक शिक्षकों को लगभग 29000 रूपये वेतन मिलता है। 

इस प्रकार सहायक शिक्षकों का  वेतनमान  शिक्षक और व्याख्याता की तुलना में काफी कम है। जिससे प्रतिमाह 10 से 12 हजार का नुकसान सहायक शिक्षकों को हो रहा है। 

इसी वेतन विसंगति को दूर करने के लिए सहायक शिक्षक निरंतर रूप से सरकार का ध्यान आकृष्ट कर रहे है। इसी क्रम में शिक्षा मंत्री से चर्चा हुई है। 

शिक्षा मंत्री से चर्चा के बाद सहायक शिक्षकों के प्रतिनिधि मंडल धरना प्रदर्शन को विराम देने की बात कह रहे है। और आपको बता दें कि यदि 15 दिनों के अंदर इस वेतन विसंगति पर कोई निर्णय नहीं आया तो सहायक शिक्षक  राजधानी में उग्र प्रदर्शन कर सकते है। 

सहायक शिक्षक और शिक्षा विभाग की अपडेट पाने के लिए abdsnews.com में नियमित विजिट करें। धन्यवाद। 

इसे पढ़ें - 2 अगस्त से स्कूलों में ऑफलाइन पढ़ाई शुरू करने के आदेश । 

Post a Comment

2 Comments

  1. वेतन विसंगति सिर्फ सहायक शिक्षकों का है ऐसा पक्षपात पत्रकारिता मत कीजिए।
    सहायक शिक्षक का वेतन 25300/
    शिक्षक 35400/
    अंतर 10100/
    शिक्षक 35400/
    व्याख्याता 38100/
    अंतर 2700/
    व्याख्याता 38100/
    प्राचार्य 56100/
    अंतर 18000/
    सही उत्तर बताइए?

    ReplyDelete
  2. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete