HTML/JavaScript

छत्तीसगढ़ राज्य में ट्रांसफर पर लगे बैन जल्द खुलेगी - शिक्षक और अन्य कर्मचारी कर सकेंगे आवेदन

 छत्तीसगढ़ में तबादला पर लगे प्रतिबन्ध हटाई जाएगी 

छग राज्य में सरकारी कर्मचारियों के लिए ट्रांसफर को लेकर अच्छी खबर आ रही है। पिछले दो वर्षों से छग में कर्मचारियों के तबादला पर बैन लगा हुआ है। ये बैन अब बहुत जल्द ही खुलने वाली है।  ट्रांसफर पर लगे बैन खुलने से कर्मचारी अपने मनचाही जगह पर जा सकेंगे। 

आपको बता दें कि राज्य में सत्ता बदलने के बाद वर्तमान सरकार ने वर्षों से तबादला पर लगे प्रतिबन्ध को हटाया ,जिससे हजारों कर्मचारियों  को फायदा हुआ ,उसके बाद फिर से पिछले लगभग 2 वर्ष से ट्रांसफर पर कोई आदेश जारी नहीं हुआ है। 

विश्वस्त सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार छग में राज्य कर्मचारियों के लिए तबादला पर लगे बैन बहुत जल्द हटने वाली है। यदि समय की बात करें तो ये जुलाई महीने में ही कर्मचारियों के लिए खुशखबरी आ सकती है। 

मध्यप्रदेश में ट्रांसफर 1 जुलाई से 

छग के पडोसी राज्य मध्यप्रदेश में कर्मचारियों के लिए ट्रांसफर पर बैन हटा दिया गया है और यहाँ 1 जुलाई 2021 से कर्मचारी ट्रांसफर के लिए आवेदन दे सकते है। मध्यप्रदेश में ट्रांसफर के लिए कुछ नए नियम बनाये गए है जिसके अंतर्गत ही कर्मचारियों का ट्रांसफर हो सकेगा। 

Read More >> संकुल समन्वयकों को स्कूल में तीन काल खंड पढ़ाना अनिवार्य -आदेश जारी 

मध्यप्रदेश में कर्मचारियों के ट्रांसफर के साथ ही अब छग में भी ये कयास लगाए जा रहे है कि बहुत जल्द यहाँ भी कर्मचारियों के लिए ट्रांसफर के रास्ते खोले जायेंगे। 

नए नियम से होंगे तबादले 

राज्य में कर्मचारियों के लिए ट्रांसफर के नए नियम बनाये जाने की खबर है ,इस नए नियम के तहत ही अब कर्मचारियों के ट्रांसफर किये जायेंगे। नए नियम में बहुत कुछ बदलाव किये गए है जो पहले की अपेक्षा काफी अलग है। 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अब किसी भी जगह से कर्मचारियों का तबादला वहां पदस्थ और रिक्त संख्या के अनुपात में की जाएगी। साथ ही शहरी और ग्रामीण लोकेशन में रिक्त संख्या के अनुपात को भी विशेष ध्यान में रखकर ही कर्मचारियों का ट्रांसफर किया जाएगा। 

शिक्षकों के लिए ट्रांसफर नियम 

स्कूल शिक्षा विभाग में शिक्षकों का ट्रांसफर विषय और पद के आंकलन के बाद होने की बात कही जा रही है। नए शिक्षा निति में भी  इस बात पर जोर दिया गया है। जिस स्कूल में पहले से शिक्षक की कमी है वहां के शिक्षक का तबादला नहीं किया जाएगा। 

शासन स्तर पर ट्रांसफर के विषय में एक बड़ी बैठक जल्द होने वाली है। जिसमे वर्ष 2021 में होने वाले कर्मचारियों के तबादले पर फैसला हो सकती है।  तबादला पर लगे प्रतिबन्ध हटने से कर्मचारी अपने मनचाही जगह पर जा सकेंगे। 

ट्रांसफर आदेश -2021 

वर्ष 2021 में होने वाले कर्मचारियों के ट्रांसफर के लिए नए नियम और आदेश -कैबिनेट मीटिंग के बाद प्रसारित किया जायेगा। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ट्रांसफर के लिए आवेदन की प्रक्रिया जुलाई के दूसरे सप्ताह से शुरू हो सकती है। 

ट्रांसफर के लिए आवेदन करने की अवधि एक माह होगी। इस अवधि में तबादला चाहने वाले कर्मचारी निर्धारित फार्म में जानकारी भरकर जमा कर सकते है। 

कर्मचारियों का तबादला प्रभारी मंत्री के अनुमोदन के बाद ही होगा। सभी जिलों के प्रभारी मंत्री नियुक्त किये जा चुके है ,जो ट्रांसफर सम्बन्धी प्रक्रियाओं का आंकलन करते हुए प्रस्ताव को अंतिम रूप देंगे। 

इसे पढ़ें - सत्र 2021-22 के लिए पढ़ाई तुंहर दुआर योजना पुनः लागु - शिक्षकों को लेनी होगी ऑनलाइन ,ऑफलाइन और मोहल्ला क्लास - पूरी जानकारी देखें 

Post a Comment

0 Comments