HTML/JavaScript

गणतंत्र दिवस मनाने के लिए दिशा निर्देश जारी - इस बार भी नहीं होगी सांस्कृतिक कार्यक्रम - स्कूली छात्र - छात्राओं को नहीं बुलाया जायेगा स्कूल -देखिये पूरी गाइडलाइन

26 जनवरी 2021 को गणतंत्र दिवस मनाने दिशा निर्देश 

प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी 26 जनवरी 2021 को गणतंत्र दिवस का आयोजन किया जाना है इसके लिए छग शासन सामान्य प्रशासन विभाग ने दिशा निर्देश  दिया है। दिशा निर्देश में क्या कुछ है पूरा विवरण आज के लेख में बताया गया है ,जानने के लिए पूरा पढ़ें। 

जैसे कि आप सभी को पता है इस वर्ष कोविड -19 (कोरोना महामारी) संक्रमण  से बचने के  लिए स्कूल और कालेज बंद कर दिए गए है। किसी भी प्रकार का ऐसा कार्यक्रम जिसमे भीड़ इकठ्ठा हो उसमे प्रतिबन्ध है। इसका असर अब गणतंत्र दिवस  कार्यक्रम में भी पड़ रहा है। 

कोविड -19 से बचाव के लिए भारत सरकार ,गृह मंत्रालय एवं स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने पहले ही गाइड लाइन जारी कर दिए है ,उसका भी पालन करना होगा। इसी के परिपालन में राज्य सरकारें अपने राज्य में दिशा निर्देश जारी किये है। जिसे आप नीचे लिंक से डाउनलोड कर सकते है। 

राज्य से जारी दिशानिर्देश डाउनलोड करें 

छग शासन ने भी गणतंत्र दिवस मनाने के सम्बन्ध में दिशा निर्देश जारी किये है ,उसके बारे में सभी बिंदुओं को इस लेख में शामिल किया गया है ,जरूर पढ़ें। 

राज्य स्तर में गणतंत्र दिवस का आयोजन 

राज्य स्तर मे राजधानी रायपुर में राजयपाल द्वारा ध्वजारोहण किया जायेगा ,इसके पश्चात पुलिस और अर्धसैनिक बालों द्वारा सलामी दी जाएगी। 

राजयपाल के द्वारा सन्देश वाचन किया जायेगा। साथ ही कोरोना वारियर्स का सम्मान भी होगा। कार्यक्रम में मास्क का उपयोग और सामाजिक दुरी आदि का पालन करना अनिवार्य होगा। 

जिला स्तर में गणतंत्र दिवस  आयोजन 

जिला स्तर में माननीय मुख्य अतिथि द्वारा ध्वजारोहण किया जायेगा। ध्वजारोहण के बाद पुलिस और नगर सैनिकों द्वारा सलामी दी जाएगी। 

मुख्य अतिथि द्वारा माननीय मुख्यमंत्री द्वारा जनता के नाम सन्देश का वाचन किया जायेगा। उसके पश्चात कोरोना वारयर्स का सम्मान किया जायेगा। कार्यक्रम में मास्क का उपयोग और सामाजिक दुरी आदि का पालन करना अनिवार्य होगा। 

जनपद पंचायत /तहसील स्तर में गणतंत्र दिवस   

तहसील /जनपद पंचायत स्तर में कोई भी सार्वजानिक समारोह आयोजित नहीं होंगे। जनपद पंचायत कार्यालय में जनपद अध्यक्ष एवं नगरीय निकाय में महापौर /अध्यक्ष द्वारा ध्वजारोहण किया जायेगा। 

पंचायत स्तर में गणतंत्र दिवस 

पंचायत मुख्यालयों में सरपंच द्वारा एवं बड़े गावों में गावों के मुखिया द्वारा ध्वजारोहण किया जाएगा एवं सामूहिक रूप से  राष्ट्रगान गाया  जाएगा। 

इसके अतिरिक्त गणतंत्र दिवस मनाने के सम्बन्ध में कुछ और महत्वपूर्ण बिंदु भी है जो इस प्रकार है -

➤ किसी भी स्तर पर आयोजित कार्यक्रम में स्कूली छात्र -छात्राओं को एकत्रित नहीं किया किया जाएगा। 

➤ सांस्कृतिक  कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया जाएगा। 

➤ कार्यक्रम में अतिथियों की संख्या सिमित रखी जाएगी। 

➤ बैठक व्यवस्था में सामाजिक/व्यक्तिगत दुरी का विशेष ध्यान रखा जाये। 

➤ ध्वजारोहण का कार्यक्रम प्रातः 8:00 बजे   के पूर्व संपन्न करा लिया जाये जिससे राजधानी और अन्य जगहों के कार्यक्रम घर में जाकर देख सकें। 

➤ कार्यालयों में ध्वजारोहण कार्यालय प्रमुख दवरा किया जायेगा तत्पश्चात सामूहिक रूप से राष्ट्रगान गए जाये। 

➤ सभी शासकीय /सार्वजानिक भवनों में राष्ट्रिय ध्वज फहराया जाएँ। 

➤ गणतंत्र दिवाद की रात्रि में प्रदेश के सभी शासकीय।/सार्वजानिक भवनों एवं स्मारकों में रोशनी किया जाये। 

ये भी पढ़ें 

छग में अभी नहीं खुलेंगे स्कूल -मोहल्ला क्लास स्वैच्छिक चलेगी 

➤ इस सत्र नहीं होगा जनरल प्रमोशन -छात्र अपने स्कूल में ही देंगे परीक्षा 

Post a Comment

0 Comments